क्या हमे फ्रेंड्स या दोस्तों की ज़रूरत है?
हमसे जुड़ें

क्या हमे फ्रेंड्स या दोस्तों की ज़रूरत है?

जीवन

क्या हमे फ्रेंड्स या दोस्तों की ज़रूरत है?

यारों दोस्ती बड़ी ही हसीन है, ये न हो तो क्या फिर, बोलो ये ज़िन्दगी है, कोई तो हो राज़दार, बेग़रज़ तेरा हो यार, तेरी हर एक बुराई पे डांटे वो दोस्त, गम की हो धूप तो साया बने तेरा वो दोस्त, नाचे भी वो तेरी ख़ुशी में!

1999 में KK जो की बॉलीवुड के एक बहुत ही जाने माने गायक है उन्होंने इस खूबसूरत गीत “यारों” को गाया। मुझे याद है उन दिनों मैं स्कूल में था और जब ये गीत हमने सुना था तो पूरे दिन इसे गाते गुनगुनाते रहते थे। इस गीत ने सच में हम सब के दिलों को छू लिया था। क्योंकि इस गीत में दोस्ती की वो सब बातें लिखी थी जो हम सब के दिलों में थी। दोस्ती सच में एक बड़ा ही खूबसूरत रिश्ता है।  इस दुनिया में शायद ही कोई ऐसा इंसान रहा होगा जिसका कोई दोस्त न हो।

To Top