मैं अकेलेपन से कैसे लड़ूँ? अकेलापन दूर करने के उपाय क्या है?
हमसे जुड़ें

मैं अकेलेपन से कैसे लड़ूँ? अकेलापन दूर करने के उपाय क्या है?

मैं अकेलेपन से कैसे लड़ूँ? अकेलापन दूर करने के उपाय क्या है?

जीवन

मैं अकेलेपन से कैसे लड़ूँ? अकेलापन दूर करने के उपाय क्या है?

क्या आप जानते हैं कि अकेलापन बहुत हानिकारक हो सकता है और ये किसी की मौत की वजह भी बन सकता है! अकेलापन कैसे आपको प्रभावित करता है और कितना हानिकारक है आपके स्वास्थ्य के लिए और आप इस से कैसे बच सकते हैं? आइए जानें कुछ टिप्स।

अकेलापन

साइंस रिसर्च पेपर के शिरक्षक ने आज चौंका दिया! चींटियों के अकेले होने पर क्या असर होता है? एक अध्ययन में यह पाया गया कि वह अपने भोजन का सही तरीके से पाचन नहीं कर पाती और फिर कुछ ही समय में धीरे-धीरे असमय मृत्यु हो जाती है। जो चींटियाँ अलग रखी गई थी वह केवल ६ दिन जीवित रही और वह जो समूह में थी ६६ दिन! अकेलापन छोटी सी चींटी के जीवन को भी कम कर देता है!

अकेलेपन के चार हानिकारक प्रभाव:

  • अकेलापन डिप्रेशन की शुरुआत हो सकती है  और एक गंभीर बीमारी का रूप ले सकती है|
  • अकेलापन शारीरिक और मानसिक प्रभाव डालता है, जैसे मोटापा बढ़ना और तनाव।
  • अकेलापन हमारे शरीर के ‘इम्यून सिस्टम’ या रोगों से लड़ने की शक्ति को कम करता है। 
  • अकेलापन निराशा और सुईसाईडल  भावनाओं को जगा देता है।

अकेलापन या अलगाव की भावनाओं के तीन बुनियादी कारण है:-

  • अपने आप से दूर।
  • दूसरों से दूर।
  • परमेश्वर से दूर।

अपने आप से दूर:

निराशा, असफलता या फिर अपने स्वभाव में ही कमी को देखते हुए अपने आप से ही भागने कि चाह। अच्छे दोस्त होते हुए भी एक भीड़ में भी आपको अकेलापन महसूस होता है। इस वजह से आम तौर पर समस्या बढ़ जाती है।


इस अकेलेपन को दूर करने के उपाय:

  • परिवार में किसी के अकेलेपन को नजरअंदाज ना करें।
  • अगर आप अकेलापन के शिकार है तो अपने प्रिय जन से बातें करें और उपाय ढूंढने में सहायता लें।
  • किसी सामाजिक या आत्मिक कार्य में जुड़ जाए जिससे आप खाली समय का सदुपयोग कर सके।
  • अपनी परिस्थितियों से ऊपर उठने की कोशिश करें, हार ना माने, असफलता के बाद ही मिलती है सफलता।

दूसरों से दूर: 

हमें इसलिए भी बनाया है कि हम औरों के साथ जुड़े रहें लेकिन अच्छे रिश्तों में भी गांठ आ सकती है, क्योंकि यह संभव नहीं कि सब कुछ सौ प्रतिशत परफेक्ट हो। आपको ऐसा भी लगता होगा कि कोई आप को समझता ही नहीं! अतीत में हुई कोई घटना ने भी आपके दिल को तोड़ा हो और गहरे घाव दिए हों जिस कारण से भी आप को अकेला रहना स्वीकार है।

इस अकेलेपन को दूर करने के उपाय:

  • अच्छे दोस्तों में इन्वेस्ट करे जो सच्चे हो और आपका साथ ना छोड़े।
  • अपनी जिंदगी की नई शुरुआत करें।
  • सुलह करने में प्रथम आगे बढ़े।
  • झगड़ा लंबे समय तक ना खींचे जल्दी सुलह कर ले।
  • निंदा करने और कमी निकालने से बढ़कर है ‘प्रेम’।

परमेश्वर से दूर: 

बाइबिल बताती है कि पाप के कारण एक पवित्र परमेश्वर से मनुष्य का रिश्ता टूट गया। शायद आप के लिए यह समझना मुश्किल है कि एक अनदेखा परमेश्वर आपके अकेलेपन में क्या सहायता कर सकता है! परंतु बाइबिल कहती है कि परमेश्वर अपने बच्चों को कभी नहीं छोड़ेगा और वह उन सभी के निकट है जो उसके नाम को पुकारते हैं। परमेश्वर आपसे प्रेम करता है और आपको इस अकेलेपन से बाहर निकालना चाहता है। इस रिश्ते को जोड़ने के लिए एक भारी कीमत अदा करनी थी जो यीशु मसीह के क्रूस पर बलिदान होने के द्वारा पूरी हुई। ‘यीशु मसीह’ वह मार्ग है जिससे कि आप उस मीठे संगति का फिर से आनन्द ले पाए। 

पेड़ की एक टहनी पेड़ से अलग हो जाए तो वह सूख जाती है, उसका जीवन ही पेड़ में बने रहने से संभव है।चलिए हमारे साथ इस नयी मंज़िल पे।

सितारों से आगे जहां और भी है, ऊपर आसमानों में एक मकान और भी है, दिल से पुकार कर देखो यीशु मसीह को,तेरे लौटने का इंतजार उसको भी है!

To Top