प्रेम और आकर्षण के बारे में मनोवैज्ञानिक तथ्यों

प्यार

Relationship में expectation vs reality: प्रेम कहानी में twist: हक़ीक़त या सपना

प्यार: हक़ीक़त या सपना 

हम दोनों समुद्र के किनारे बैठे थे और सामने डूबते हुए सूरज का नज़ारा देखते हुए हम दोनों एक दूसरे में इतना खो गए कि टाइम का पता ही नहीं लगा कि अचानक मेरी मम्मी ने आवाज़ दे दी और मेरी नींद खुल गई और मेरे सपनों का राजकुमार समुद्र के किनारे ही रह गया..
फ़िल्मी कहानियाँ, गाने, प्यार की किताबी कहानियाँ और यह सोशल मिडिया प्यार के ख़याली पुलाओ से भरा हुआ है पर हकीक़त में बहुत बार प्यार की सूखी रोटी खाकर अपने रिलेशनशिप को तस्सली देनी पड़ती है। इस बार नई मंज़िल लेकर आया है रिलेशनशिप में  ख़याली उम्मीदें (expectation)और हकीक़त।

हमसे chat करें

तो चलिए देखते है इन दोनों मे मतभेद और इनका अंतर।

1.Expectaion – वो सफेद घोड़े पे आएगा और मुझे अपने साथ ले जाएगा।

Reality – यह सोच किताबी कहानी का है जो हमेशा काल्पनिक होती है। पर फिल्मों ने हमारा दिमाग इतना फिल्मी कर रखा है कि जब भी इस बारे में सोचते हैं तो सपनों का राजकुमार घोड़े पर आता हुआ ही दिखता है।

जब की हकीक़त में वो हमेशा बाइक या सकूटी या गाड़ी में आता है और आपसे मिलकर वापिस अपने घर चला जाता है।

2.Expectation – मेरे रीलेशनशिप मे सिर्फ खुशियाँ ही खुशियाँ होगी।

Reality – ऐसा कोई भी रिलेशनशिप नहीं है इस दुनिया मे जिसमें सिर्फ ख़ुशियाँ ही हो। हर एक के रिश्ते मे उतार चढ़ाव आते हैं, दुख, संघर्ष, ख़ुशियाँ, लड़ाई, माफ न कर पाना आदि यह सब एक समय पर सबको फेस करना पड़ता है। इसलिए यदि आप रिलेशनशिप में इसलिए है कि बस ख़ुशियाँ होगी तो उसके बाकी रंगों को देखने के लिए तैयार रहे। यह रिलेशनशिप आपको बहुत अलग अलग अनुभव दिलवाएगा।

3.Expectation – रीलेशनशिप में आने से मेरी सारी परेशानियों का हल हो जाएगा।

Reality– जी नहीं। रिलेशनशिप आपकी समस्याओं का हल नहीं है। उनका हल आपको खुद करना होगा। ऐसे में आप किसी की मदद ले सकते हैं पर रिलेशनशिप कभी भी उन समस्याओं का हल नहीं होगा। ऐसा करने से आप फस कर रह जाओगे इसलिए सोच समझकर फैसला ले।

4.Expectation – अगर वो मुझसे प्यार करता है तो वो अपने आप को बदल देगा। 

Reality – रिलेशनशिप में यदि आप हर समय उन्हें बदलने की कोशिश कर रहे हैं तो यह गलत है । याद रखें उनकी खुद की पसंद, नापसंद है, खुद के ख्यालात है, खुद की एक पहचान है। जिससे आप बदल कर  एक रोबोट बना देंगे । ऐसा करने से आप दोनो ही नाख़ु रहेंगे और आपका रिलेशनशिप भी ज्यादा देर तक नहीं टिक पाएगा।

5.Expectation – प्यार मे कोई सौरी नहीं कोई थैंकयू नहीं। 

Reality – सच माने तो आपका रिलेशनशिप इन ही दो शब्दों के कारण टिक पाएगा। यदि आपसे ग़लती हुई है तो ग़लती मान लेना और सौरी बोलने से आपका रिलेशनशिप टूटने के बजाए और मजबूत होगा और यदि आप सौरी बोलने या माफ करने के बजाए आपको बात और बिगाड़ने की आदत है तो आपका रिलेशनशिप बहुत जल्द खत्म हो जाएगा। 

6.Expectation – अगर वो मुझसे प्यार करता है तो वो अपने परिवार, दोस्तों को मेरे लिए छोड़ देगा।

 Reality – जितना आपका परिवार और दोस्त आपके लिए अहमियत रखते है वैसे ही आपके साथी के लिए भी वह लोग उतने ही जरूरी हैं। उनके जीवन को अपनी तरह से चलाना, उनके निर्णय को कंट्रोल करना सिर्फ आप दोनों मे शक, डर, गलत फेहमी को पैदा करेगा जिससे सिर्फ लड़ाई झगड़े होंगे और आपके रिलेशनशिप का जल्द अंत हो जाएगा। इसलिए ध्यान में रखें कि आप रिलेशनशिप मे किस दिशा की ओर बढ़ रहे है। 

 तो यह था नई मंज़िल की तरफ से कुछ खट्टे मिठे Expectation और Reality check। ऐसे प्यार के बारे मे और जन्नने के लिए नई मंजिल से जुड़े रहे।

हमसे chat करें

आगे पढ़ना जारी रखें
आप इन्हे भी पढ़ना पसंद करेंगे ...
To Top